Mahakal Attitude Status shayari In Hindi

फिदा हो जाऊँ..
तेरी किस-किस अदा पर महाकाल,
अदायें लाख तेरी, बेताब दिल एक हें मेरा!

रूद्र रूप धरे त्रिशूल चलाएं,
डमरु की धुन पर नाच नचाए;
महाकाल भक्तों की रक्षा,
और पापियों को सबक सिखाएं!

जब मुझे यकीन है,
के महादेव मेरे साथ;
है तो इस से कोई,
फर्क नही पड़ता के;
कौन मेरे खिलाफ है!

हम तो एक ही रिश्ता जानते हैं!
दिल वाला रिश्ता…
और दिल में तो’
महाकाल मुस्कुरा रहा है;
तोड़ सारे भ्रम दोष कृपा बरसा रहा है.

Mahakal shayari In hindi

यह कलयुग है
यहाँ ताज अच्छाई को नही,
बुराई को मिलता है;
लेकिन हम तो बाबा महाकाल के दीवाने है,
ताज के नही रुद्राक्ष के दीवाने है!

मौत की गोद में सो रहे हैं,
धुंए में हम खो रहे है;
महाकाल की भक्ति है सबसे ऊपर,
शिव शिव जपते जाग रहे है, सो रहे हैं!

भोले के दरबार में दुनिया बदल जाती है,
रहमत से हाथ की लकीर बदल जाती है;
लेता है जो भी दिल से महादेव का नाम,
एक पल में उसकी तकदीर बदल जाती है!

मेरे महाकाल तुम्हारे,
बिना मै शून्य हूँ तुम;
साथ हो महाकाल,
तो मै अनंत हूँ!

इश्क मे पागल छोरे छोरिया,
वेलेनटाइन डे के गुलाब बिन रहै है;
हम तो बाबा महाकाल के दिवाने है,
शिवरात्री के दिन गिन रहे है!

जिन्दा साँस और मुरदा राख,
चिलम मे गाँजा दूध मे भाँग;
देव भी सोचे बार बार,
दम लगाये हजार बार;
ऐसे है महाकाल!

भूल कर एक भक्त के दर काल आ गया,
उस भक्त की जुबां पर महाकाल आ गया;
सुनकर महाकाल का नाम काल बेहाल हो गया!

हम तो महादेव की,
जटाओ मे उलझे है;
हमे यह जमाना,
क्या उलझाएगा!

मुझे अपने आप में कुछ यु बसा लो…
के ना रहू जुदा तुमसे,, और खुद से तुम हो जाऊ…जय भोलेनाथ!

Attitude mahakal shayari

खुशबु आ रही है कही से,
गांजे और भांग की;
शायद खिड़की खुली रह गयी है,
मेरे महाकाल के दरबार की…!

माया को चाहने वाला,
बिखर जाता है;
और मेरे महाकाल को चाहने वाला,
निखर जाता है…!

मिलती है तेरी भक्ती,
महाकाल बडे जतन के बाद;
पा ही लूँगा तुझे मे…
श्मशान मे जलने के बाद!

राजनीति नही दिलो पर,
राज करने की ईशा है;
यही मेरे गुरू बाबा,
महाकाल की शिक्षा है!

सजा कितनी भी दो फिर,
भी आराध्य मेरे तुम ही हो!

महाकाल तुम से छुप जाए मेरी तकलीफ,
ऐसी कोई बात नही;
तेरीभक्ती से ही पहचान है मेरी वरना, मेरी कोई ओकातनही!

कौन कहता है भारत में,
fogg चल रहा है;
यहाँ तो सिर्फ महाकाल के भक्तो का,
खौफ- चल रहा है!

महाकाल के भक्तो से पंगा,
और भरी महफील मे दंगा;
मत करना वरना,
चोराहे पे नंगा;
और अस्थियो को गंगा में बहा दूंगा….!

नीम का पेड़ कोई चन्दन से कम नही,
उज्जैननगरी कोई London से कम नही;
जहाँ बरस रहा है मेरे महाकाल का प्यार,
वो दरबार भी कोई जन्नत से कम नही!

Mahakal shayari In hindi

ना शिकवा तकदीर से ना शिकायत अच्छी,
महादेव जिस हाल मे रखे वही जिंदगी अच्छी!

आँधी तूफान से वो डरते है,
जिनके मन मे प्राण बसते है;
वो मौत देखकर भी हँसते है,
जिनके मन मे महाकाल बसते है!

कैसे कह दूँ कि मेरी,
हर दुआ बेअसर हो गई;
मैं जब जब भी रोया,
मेरे भोलेनाथ को खबर हो गई!

ना गिन के दिया ना तोल के दिया,
“मेरे महाकाल ने जिसे भी दिया;
दिल खोल के दिया”

महाकाल तेरी कृपा रही तो,
एक दिन अपना भी मुकाम होगा;
70 लाख की Audi कार होगी,
और FRONT शीशे पे;
महाकाल तेरा नाम होगा!

मैनें तेरा नाम लेके ही,
सारे काम किये है महादेव;
और लोग समजतें है,
की बन्दा किस्मत वाला है!

कृपा जिनकी मेरे ऊपर,
तेवर भी उन्हीं का वरदान है;
शान से जीना सिखाया जिसने,
“महाँकाल” उनका नाम है!

जो समय की चाल है,
अपने भक्तों की ढाल है;
पल में बदल दे सृष्टि को,
वो महाकाल है!

Mahakal Status Shayari

तेरी भक्ति का सफर बहुत,
सुहाना है मेरा दिल सिर्फ;
महाकाल तेरा ही दीवाना है!

शिव की बनी रहे आप पर छाया,
पलट दे जो आपकी किस्मत की काया;
मिले आपको वो सब अपनी ज़िन्दगी में,
जो कभी किसी ने भी न पाया!

शिव की ज्योति से नूर मिलता है,
सबके दिलों को सुरूर मिलता है;
जो भी जाता है भोले के द्वार,
कुछ न कुछ ज़रूर मिलता है!

मिलावट है भोलेनाथ,
तेरे इश्क में इत्र और नशे की;
तभी तो मैं थोडा महका हुआ,
और थोडा बहका हुआ हूँ!

बदल देता है महादेव तू,
इन हाथों की लकीरो को;
बादशाह होते देखा है तेरे,
दरबार मे फकीरो को!

गरज उठे गगन सारा समुन्दर,
छोड़े अपना किनारा;
हिल जाए जहान सारा,
जब गूंजे महादेव का नारा!

हम ‪‎महादेव‬ के दीवाने है,
तान के ‪सीना‬ चलते है;
ये महादेव का जंगल है,
यहाँ शेर ‪महाकाल‬ के पलते है!

ये केसी घटा छाई हैं,
हवा में नई सुर्खी आई है;
फ़ैली है जो सुगंध हवा में,
जरुर महादेव ने चिलम लगाई है!

मुझे अपने आप में कुछ यु बसा लो,
के ना रहू जुदा तुमसे;
और खुद से तुम हो जाऊ,
जय भोलेनाथ!

Mahakal ki shayari

खुल चूका है नेत्र तीसरा,
शिव शम्भू त्रिकाल का;
इस कलयुग में वो ही बचेगा,
जो भक्त होगा महाकाल का!

खुल चुका है नेत्र तीसरा शिव,
शंभू त्रिकाल का इस कलयुग मे वो;
ही बचेगा जो भक्त हो महाकाल का!

गांजे मे गंगा बसी,
चीलम में चार धाम;
कंकर मे शंकर बसे,
और जग मे महाकाल!

मैँ और मैरा भोलेनाथ,
दोनो ही बङे भुलक्कङ है;
वो मेरी गलतियां भूल जाते है,
और मै उनकी मेहरबानियों को!

जिनके रोम-रोम में शिव हैं,
वही विष पिया करते हैं;
जमाना उन्हें क्या जलाएगा,
जो श्रृंगार ही अंगार से किया करते हैं!

भोले तने तो सारी दुनिया पार तारी हे,
कदे मेरे सर पे बी हाथधर क कह दे; चालबेटेआज तेरी बारी हे, जयमहाकाल!

लोग कहते हैं किसके दम पे उछलता है तू इतना मैंने,
भी कह दिया जिनकी 🀄 चिलम के;
हुक्के की दम ⚡ पर चल,
रही ये 🔃दुनिया है .उन्हीं;
महाँकाल के 💪 दम पे उछलता ये बंदा है जय राजा महाँकाल!

अपने जिस्म को इतना ना सँवारो,
यह तो मिट्टी मे ही मिल जाना है;
सँवारना है तो अपनी रूह को,
सँवारो क्योकि उस रूह को;
ही महाकाल के पास जाना है!

Attitude Mahakal shayari

तुझे पाने की आस और,
खोने का डर है बस इतना;
ही मेरे जीवन का सफर है!

मोहोब्बतकातोपतानहीपर, दिललगीसिर्फमहाँकालसेहै;
जयश्रीमहाँकाल!

माया को चाह ने वाला बिखर जाता हैं,
ओर महाकाल को चाह ने वाला निखर जाता हैं;
हर हर महादेव!

क्या गजब तेरी माया है,
मै लायक नही था;
फिर भी तूने अपनाया है!

हिन्दूगिरी के बादशाह है,
हम तलवार हमारी रानी है;
दादागिरी तो करते ही है बाकी,
महाकाल की मेहरबानी है!

घनघोर अँधेरा ओढ़ के…
मैं जन जीवन से दूर हूँ…
श्मशान में हूँ नाचता…
मैं मृत्यु का ग़ुरूर हूँ…
Jay Mahakal!!!

मुझे कुछ नही चाहिए महादेव,
आपका नाम ही दुनिया को;
झुकाने के लिए काफी है!

महांकाल तू तो रोम रोम मे,
मेरी इस तरह समाया है क्या धुप;
क्या छाया ये सब तेरी माया ह!

कुत्तो की बढी तादाद से..शेर मरा नही करते..और महाकाल के दिवाने..किसी के बाप से ड़रा नही करते..?? जय श्री महाकाल

राम भी उसका।💪रावण भी उसका,
जिवन उसका मरण भी उसका;
जय श्री महाकाल!!!

Shayari mahakal

बम भोले डमरू वाले शिव का प्यारा नाम है,
भक्तो पे दर्श दिखता हरी का प्यारा नाम है;
शिव जी की जिसने दिल से है की पूजा,
शंकर भगवान ने उसका सवारा काम है!
जय महाकाल!

मै राजनीति तो नही,
जानता महादेव लेकिन;
मेरी सरकार आप हो!

जैसे हनुमानजी के सीने में तुमको,
सियापति श्री राम मिलेगे;
सीना चीर के देखो मेरा,
तुमको बाबा महाकाल मिलेगे!

अकाल मृत्यु वो मरे जो कर्म करे चांडाल का,
काल उसका क्या करे जो भक्त हो महाकाल का;
जय महाकाल!

खुल चूका है नेत्र तीसरा शिव शम्भू त्रिकाल का,,, इस कलयुग में वो ही बचेगा जो भक्त होगा महाकाल का!

मझधार में नैया है,
बड़ा दूर किनारा है;
अब तू ही बता मेरे महाकाल,
यहां कौन हमारा है!

Mahadev shayari

सर्पों के बीच रहने वाला क़लापी,
दिगम्बर, मशान ही मेरा मूल स्थान है;
रूद्र , अघोरा मेरे रूप है,
मैं प्रलय रूद्र हूँ;
मैं महाकाल हूँ!

झुकता नही शिव भक्त किसी,
के आगे वो काल भी क्या;
करेगा महाकाल के आगे!

नही पता कौन हूँ मै और कहा,
मुझे जाना है महादेव ही मेरी;
मँजिल हैं और महाकाल,
का दर ही मेरा ठिकाना है!

हर शख्स अपने गम में खोया है..और जिसे गम नहीं
वो
मेरे महाकाल की चौखट पर सोया है..
जयश्रीमहाकाल

जैसे तिल मेँ तेल है,
ज्यो चकमक मे आग;
तेरा शंभू तुझ में है,
तू जाग सके तो जाग!

धन और दौलत तो सिर्फ,
नाम की ही बाते है अंत मे सब;
महादेव की दरबार ही जाते है!

जब दुआ और कोशिश से बात ना बने तो फैसला🔱महाकाल पे छोड़ दो महाकाल अपने बच्चों के बारे में बेहतर फैसला करते है
🙏जय_महाकाल🚩

दर पर तेरे आकर दोबारा,
वापस न जाऊ तू मिले वही;
और मैं तेरा हो जाऊं!

Bholenath shayari

किसी ने मुझसे कहा इतने,
ख़ूबसूरत नही हो तुम;
मैने कहा महाकाल के भक्त,
खूंखार ही अच्छे लगते है!

तेरा गुणगान करूँ,
तेरी ही भक्ति करूँ;
तेरा सानिध्य हो,
अलंकरण हो;
भक्ति का अनुकरण हो,
मेरे महाकाल शत् – शत् नमन!

मेरे भोलेनाथ ने भरोसा,
करना सिखाया है मगर;
किसी के भरोसे में रहना नही!

जिंदगी मे मेरी बस यही आखिरी उमंग होगी,
सफर केदारनाथ का होगा और वह मेरे संग होगी!

बहुत दिल भर चुका है खूब रोना चाहता हूँ,
मैं महाकाल तेरी गोद में सिर रख कर;
सोना चाहताहूँ! जयश्री_महाकाल

सारा ब्राम्हॉंन्ड झुकता है,
जिसके शरण मे मेरा प्रणाम;
है उन महाकाल के चरण मे!

मेने तेरा नाम लेके ही हर काम,
किया है मेरे भोलेनाथ और लोग;
समझते है कि बंदा किस्मत वाला है!

Mahadev ki shayari

मै योग निद्रां मे शम्भु हु,
निद्रां के बहार शंकर;
और जाग गया तो रुद्र हु!

ना मै उच नीच मे रहूँ,
ना ही जात पात मे रहूँ;
महाकाल आप मेरे दिल मे,
रहे और मै औक़ात मे रहूँ!

मेरे महाकाल तुम्हारे बिना मैं शून्य हूँ ….. तुम साथ हो महाकाल तो में अनंत हूँ महाकाल Mahakal

भुलेंगें वो भुलाना जिनका काम है मेरी तो महाकाल के बिना गुजरती नही शाम है कैसे भूलूँ मै महाकाल को जो मेरी जिदगी का दुसरा नाम है !! Mahakal

कसम खाता हूं महाकाल का वतन के मिट्टी का दीपक जलाउंगा चाइना नहीं हिन्दुस्तानी है अपने मिट्टी की इज्जत करेंगे जय श्री महाकाल

अपने जिस्म को इतना न सँवारो,
यह तो मिट्टी में ही मिल जाना है;
सँवारना है तो अपनी आत्मा को सँवारो,
क्योंकि उस आत्मा को ही🔱महाकाल के पास जाना है1

अच्छे कर्मों से बड़ी राहत क्या होगी नेकी से बड़ी,
इबादत क्या होगी जिस इंसान के सर पर;
सायाहो महाकाल का उसे जिंदगी से शिकायत,
क्या होगी!

तेरे दर पर आते आते मेरे महाकाल जिंदगी की शाम हो गयी .. और जिस दिन तेरा दर दिखा जिंदगी ही तेरे नाम हो गयी…

मैं अगर फूल हूं,
तो भोले तू पानी है;
जब तक तू है जिंदगी मे,
मेरी तब तक कहानी है!

तेरी जटाओ का एक छोटा सा,
बाल हूँ तेरे होने से मै बेमिसाल हूँ;
तेरे होते मुझे कोई छू भी ना पाये,
क्योकि मेरे भोलेनाथ मै तेरा लाल हूँ!

Mahadev shayari status in hindi

तेरी जटाओं का एक छोटा सा बाल हूँ,
तेरे होने से मैं बेमिसाल हूँ;
तेरे होते मुझे कोई छू भी ना पाये,
क्योंकि मेरे महाकाल मैं तेरा लाल हूँ!

काल का भी उस पर क्या आघात हो,
जिस बंदे पर महाकाल का हाथ हो!

दिन खराब है जिंदगी नही,
दुनिया खिलाफ है महादेव नही!

भोले की भक्ति में लीन रहता हूं,
पीके भांग मैं नींद में रहता हूं!

महाकाल नाम की चाबी ऐसी जो हर ताले को खोले,
काम बनेगे उसके सारे जो जय श्री महाकाल बोले !

तेरी जटाओं का एक छोटा सा बाल हूँ,
तेरे होने से मैं बेमिसाल हूँ;
तेरे होते मुझे कोई छू भी ना पाये,
क्योंकि मेरे महाकाल मैं तेरा लाल हूँ!

खौफ फैला देना नाम का,
कोई पुछे तो कह देना;
भक्त लौट आया है,
महाकाल का!

साल तो आते रहेगे और जाते रहेगे,
हम तो ऐसे ही महाकाल आपको;
बेशुमार चाहते रहेगे!

उस घर जाना है मुझे,
जिस घर का नाम केदारनाथ;
और जहां के मुखिया का नाम भोलेनाथ है!

चिता नही है काल की,
बस कृपा बनी रहे;
मेरे महाकाल की!

जब सुकून नही मिलता,
दिखावे की बस्ती मे;
तब खो जाता हूँ मेरे,
महाकाल की मस्ती मे!

Mahakal shayari two line

आपके प्रेम मे हम महाकाल इतने चूर हो रहे हैं,
लिखते आपके बारे मे और खुद मशहूर हो रहे हैं…

नही पता कौन हु मै !! और कहा मुझे जाना है !!। महादेव ही मेरी मँजिल !! और महाकाल का दर ही मेरा ठिकाना है !!!

उसे डर केसा काल का जो भक्त हे स्वयं महाकाल का । हर हर महादेव.महाकाल Mahakal

सोचने से कहाँ मिलते है… तमन्नाओं के शहर… चलने की जिद भी जरुरी है… महाकाल पाने के लिए. महाकाल Mahakal

मृत्यु के समय कोई तुम्हारी नही सुनेगा,
कर्म की गति ही बताएगी तुम्हे कहा घसीटा जायेगा;
महाकाल

तिलक धारी सब पे भारी जय,
श्री महाकाल पहचान हमारी!

वो गुरु है मेरा वो मित्र है मेरा वो साथ है मेरा वो विश्वास है मेरा वो मार्गदर्शक है मेरा वो शासक है मेरा वो मेरा मैं उसका वो महाकाल है मेरा

मेरा विश्वास ही मेरी सबसे बड़ी ताकत है महाकाल ये नाम ही काफी है हर हर महादेव

मृत्यु का भय उनको है जिनके कर्मों मे दाग है, हम महाकाल के भक्त है, हमारे खून में भी आग है। महाकाल …

Mahadev shayari quotes

लोग कहते है किसके दम पे उछलता,
है तू इतना मैने भी कह दिया जिनकी;
चिलम के हुक्के की दम पर चल रही,
ये ​दुनिया है उन्हीं महाकाल के,
दम पे उछलता ये बंदा है!

माया को चाहने वाला,
बिखर जाता है और;
महाकाल को चाहने,
वाला निखर जाता है!

दिखावे की मोहब्बत से दूर,
रहता हूँ इसलिये मै महाकाल;
के नशे मे चूर रहता हूँ!

भटक भटक के ये जग हारा,
संकट मे दिया ना कोई साथ;
सुलझ गई हर एक समस्या,
महाकाल ने जब पकड़ा हाथ!

मुझे कौन याद करेगा इस भरी दुनिया में,
हे महाकाल बिना मतल़ब के तो लोग तुझे भी याद नही करते!

अगर महादेव दे तो कोई छीन नही सकता,
अगर वह छीन ले तो कोई दे नही सकता!

यह कलयुग है,
यहाँ ताज अच्छाई को नही;
बुराई को मिलता है,
लेकिन हम तो बाबा महाकाल के दीवाने है;
ताज के नही रुद्राक्ष के दीवाने है!

मुश्किल मे तो मेरे भी हालात,
पड़े थेमै जीत गया क्योकि;
साथ मे महाकाल खड़े थे!

तेरी भक्ति का सफर बहुत सुहाना है,
मेरा दिल सिर्फ महाकाल;
तेरा ही दीवाना है!

गरज उठे गगन सारा,
समंदर छोड़े अपना किनारा;
हिल जाये जहान सारा,
जब गूंजे महाकाल का नारा!

मिलती है तेरी भक्ती,
महाकाल बडे जतन के बाद;
पा ही लूँगा तुझे मे… श्मशान मे जलने के बाद,
फर्क है आपके और हमारे संसार मे;
आपका संसार माया जाल है;
और हमारा संसार महाकाल है!

अकाल मौत वो मरे जो काम करे,
चंडाल का काल भी उसका क्या;
बिगाड़े जो भकत हो महाकाल का!

शेरो वाली दहाड़ फ़िर सुनाने आए है,
आग उगलने को फ़िर परवाने आये है;
रास्ता भी छोड़ दिया स्वयं काल ने,
जब देखा उसने महाकाल के दीवाने आए है!

काल भी तुम महाकाल भी तुम,
लोक भी तुम त्रिलोक भी तुम;
शिव भी तुम और सत्य भी,
तुम जय श्री महाकाल!

Spread the love

Leave a Comment